importance of discipline in life in hindi

अनुशासन का महत्व | Importance of Discipline in Life

जिस समय जो काम करना, तब करना, जो नियम हो,उन नियम को जान और मान कर, उन नियमों के अनुसार ही काम को करना, अनुशासन कहलता है।अनुशासन का अर्थ है,नियमों का पालन जिस चीज के लिए जो नियम बने हैं,उसी के अनुसार उस काम को करना अनुशासन कहलाता है।अनुशासन जीवन के सभी कार्यों को क्रमबद्ध और नियमित तरीके से करने की एक विधि है।

अनुशासन हर मानव के अंदर मौजूद होता है यह एक आभूषण की तरह उसके जीवन की सुंदरता को प्रदर्शित करता है। जीवन में सिग्नल के रेड लाइट की तरह यह हमें रुकने,सोचने और योजनाबद्ध तरीके को खोज कर उस पर चलने का पथ प्रदर्शन कर हमें सफलता दिलाता है।

Table of Contents

अनुशासन ही सब कुछ | Importance of discipline in life

 

images 2022 04 21t0650006498253351843871328.

 

सफल जीवन की यात्रा

यह अनुशासन मानव को मानव बने रहने पर अपने व्यक्तित्व के विकास पर चलने को मजबूर करता है। खुद पर नियंत्रण, अपनी क्रियाओं पर नियंत्रण, अपने जीवन शैली पर नियंत्रण, अपनी जीवन चर्या पर नियंत्रण,अपने मन, बुद्धि और वाणी पर नियंत्रण भी इस अनुशासन के पालन से ही जीवन में आता है।

हमारे बुलंद जीवन का प्रथम सूत्र ही अनुशासन और उसकी इच्छा शक्ति होता है। यह हमारी जीवन की सफलता का राज भी है।अनुशासन और मानसिक लगन से ही हम अपने लक्ष्य तक पहुंच पाते हैं।अनुशासन से ही हम जीवन को खुशहाल बना कर शान से जी पाते हैं।

नियम से सप्ताह में कुल 168 घंटे होते हैं,और अनुशासन के महत्व को जानकर ही हम इन घंटो का उपयोग कर,इस समय का प्रयोग करने की शक्ति और प्रेरणा से अपनी दैनिक कार्य की योजना बना कर काम करते हैं।

Also Check:

अनुशासन से क्या मिलता है

अनुशासन ही हमारा भाग्य बनाता है। अनुशासन से ही जीवन में परिणाम दिखाई देते हैं। हमारी समृद्धि,सफलता और हमारे जीने के तौर तरीके से ही यह पता चल जाता है,कि हम कितने अनुशासन को पालन करते हैं,नियमों के अनुसार जीवन जीते हैं।

हमारा जीवन और यह संसार अनुशासन से ही चलता है,समय पर ही प्रकृति अपने सब कार्यों को करती है। सूरज का निकलना, अस्त होना,सर्दी गर्मी का मौसम परिवर्तित होना,यह सारे ब्रह्मांड के कार्य अनुशासनात्मक समय के अनुरूप की चलते हैं,जिससे पृथ्वी पर विभिन्न जीव जंतु अपना जीवन बसर कर पाते हैं।

जब-जब प्रकृति ने अनुशासन तोड़ा है,तब तब ही विध्वंस होता है।उसी तरह हमारा जीवन भी चलता है,हम जब जब नियमों और अनुशासन को तोड़ते हैं,हमारे जीवन में चुनौतियां उत्पन्न होती है।

जीवन में अनुशासित रहने के लिए तरीके

सर्वप्रथम हम हमारे जीवन में संतुलित और नियमित दिनचर्या को बनाएं,और उसे अपने जीवन में पालन जरूर करें।

अपने हर कार्य को हम निर्धारित समय पर ही पूरा करने की आदत बनाएं और करें भी।

अनुशासन का पालन सर्वप्रथम हम अपने जीवन में करना शुरू करें। इससे हमारे साथ रहने वाले लोगों पर भी इसका प्रभाव पड़ने लगता है।

अनुशासन का रहस्य

अनुशासन का पालन करने से हमारे जीवन में मान- सम्मान,समृद्धि,सफलता,धन,दौलत स्वयं ही हमारे जीवन में प्रकट होने लगते हैं।

अनुशासन के प्रभाव से ही हम अपने चरित्र के निर्माण के लिए विवश हो जाते हैं,जिससे हमारा जीवन सुंदर और आकर्षक बनने लगता है।

अनुशासन का प्रभाव ही हमें अच्छाई और बुराई का ज्ञान कराता है,जिससे हम अपने जीवन को निर्माण कर पाते हैं।

जीवन में शारीरिक चुस्ती- फुर्ती,मानसिक नियंत्रण,विशिष्ट गुणों का विकास, सामाजिक गतिविधियां,महत्वाकांक्षा और हमारी इच्छा शक्ति में संतुलन इस अनुशासन के द्वारा ही बना रहता है।

हम अनुशासन के कारण ही अपने अंदर की सोई हुई अपार शक्तियों का उपयोग कर सकते हैं।

हम अनुशासन के महत्व को जानकर ही अपने जीवन में अपने स्वास्थ्य,समय और अपनी बुरी आदतों पर भी लगाम लगा पाते हैं,और अपने जीवन को खुशहाल बनाने में काम कर पाते हैं।

अनुशासन की शक्ति

सबसे महत्वपूर्ण बात इसमें यही है कि इस अनुशासन के पालन से ही हमारे जीवन का ध्यान लक्ष्य पर टिका रह सकता है,और हम अनवरत तेजी से अपने लक्ष्य की ओर बढ़ पाते हैं।एक आदत से दूसरी आदत पर विजय प्राप्त कर पाते हैं।आदत अनुशासन की आत्मा है।

अनुशासन और इच्छाशक्ति से ही जीवन में असीम संभावनाओं के दरवाजे खुलते हैं, हालांकि शुरू शुरू में कुछ मुश्किल जैसे लगता है,किंतु जब बार-बार मांसपेशियों को जब नियमित दृढ़ इरादों की खुराक मिलने लगती है,सफलता अपने आप ही हासिल होने लगती है। समय लगने वाला काम भी आसान होने लगता है।

अनुशासन से ज्ञान के भंडार का भरपूर इस्तेमाल होता है,जो कार्यों का आसानी से आरंभ करने से अंत तक ले जा कर, परिणाम तथा लक्ष्य तक पहुंचाता है।

आहार पर नियंत्रण द्वारा आंतरिक उर्जा पर काम करके,संतुष्ट और पूर्ण जीवन के लिए अलौकिक शक्तियों के प्रयोग के अनुशासन से हमारे जीवन में,नया जोश और उत्साह उत्पन्न होता है।

अनुशासन से ही अद्भुत मानसिक नियंत्रण आता है जिससे सकारात्मक सोच का जन्म होता है जो,जीवन में चुनौतियों से निकालता है।

मन की बातों को संभालने के लिए अपनी इच्छाशक्ति की मांसपेशियों को मजबूत करें। अनुशासन से ही हम इंसान,अपने विवेकपूर्ण लक्ष्य को हासिल कर पाते हैं।हवा में पत्ते की तरह हमारे विचार जब जड़ हो पाते हैं,तभी हम जीवन में कुछ हासिल कर पाते हैं।

अनुशासन से मिलती है जीत

बगैर अनुशासनात्मक शक्ति के कोई भी सपना साकार नहीं हो सकता।इच्छा शक्ति के बिना हम लेट लतीफ, अकेलेपन के शिकार हो जाते हैं और जीवन में कुछ नहीं कर पाते।

बड़ी सफलता को संभालने के लिए अनुशासन बहुत जरूरी

पहले हम स्वयं के भाग्य विधाता बने। तभी हम किसी बड़ी कंपनी या टीम के भाग्य विधाता बन पाते हैं। जीवन की बागडोर संभालने से पहले जरूरी है,मन की बात और उस मन को अनुशासन से चलना और चलाना सीखना।

अनुशासन से होते चमत्कार

बगैर अनुशासन जीवन में कुछ भी प्राप्त करना असंभव है।बाहरी सफलता की शुरुआत भी हम इंसान के अंदर की अनुशासन और इच्छाशक्ति से ही होती है। इसके लिए हमें अपनी आंतरिक दुनिया को बेहतर बनाना,आरंभ करना,आंतरिक शक्तियों का विकास करना,आंतरिक सोच पर काम करना अति आवश्यक है।

सफलता और बड़ा कुछ करने के मार्ग में लोग जब हटने के लिए हमें हतोत्साहित करने का प्रयास करते हैं,तब अनुशासन और इच्छाशक्ति से ही है,अपने मार्ग पर दृढ़ रह कर बढ़ पाते हैं, विजेता हमेशा अनुशासित होते हैं।

शरीर पर काम करना भी जरूरी

हर विजेता और सफल इंसान में अनुशासन देखने को मिलता है।यह अनुशासन का गुण ही हमारी जिंदगी में समृद्धि, सफलता और खुशियां लेकर आता है। हमारी इच्छा शक्ति का प्रयोग मांसपेशियों को मजबूत बनाने का राज बिल्कुल साधारण सा है,जब हम अपने शरीर को मजबूत बनाते हैं,तभी हमारा मस्तिष्क मजबूत हो पाता है।

अपनी याददाश्त की क्षमता बढ़ाने के लिए भी शारीरिक क्षमता पर काम करें अपनी कल्पना शक्ति का विस्तार करें अपने मन में स्वस्थ शरीर की छवि बनाएं और ऐसा महसूस करें कि हम एक स्वस्थ व्यक्ति हैं,हम धीरे-धीरे स्वत: ही मजबूत बनते जाएंगे।

मस्तिस्क में बीज डालें

इस अनुशासन के पालन – सफलता और खुशियों के लिए हम महान सपने देखे। ऊंचे विचार रखें ,खुद को कमजोर न समझें, अपनी चमक और आत्मविश्वास के लिए निरंतर अनुशासन का ही पालन करें। हमारी अदम्य इच्छाशक्ति हमारा अनुशासन ही हमें जीवन में आगे ले जाता है। हमें कमजोर होने से रोकता है।

यह हमें बहाने बनाने से रोकता है। हमें जिम्मेदारियों को देने से रोकता है, और हम अपने मार्ग पर चलते जाते हैं।

अनुशासन से जीवन में नए-नए सद्गुणों का जन्म होता है।

अनुशासन कैसे आता है।

इसके लिए हम सर्वप्रथम अपने मन को वश में करना शुरू करने का प्रयास करें,जिससे हमारी सफलता में आश्चर्यजनक परिवर्तन आता है।हम टालमटोल की आदत से बचते हैं,क्योंकि टॉलमटोल की इस आदत से ही हमें मानसिक थकान भी होती है,जिससे हमें शारीरिक थकान भी महसूस होती है।

दिमाग में हमारे 1000 वोल्ट की बैटरी लगी है।इस मानसिक थकान को मिटाने के पहले लिए सबसे पहले हम अपने मन में उठने वाले विचारों पर पूरा नियंत्रण स्थापित करें। सिर्फ सकारात्मक विचारों को ही वहां स्थान दें,और यह महसूस करें कि हमारे अंदर असीम ऊर्जा का भंडार है।तब हमें महसूस होने लगता है,कि इस अनुशासन की वजह से ही हम स्वयं भी मौजूद हैं,हमारा अस्तित्व मौजूद है, हमारी पहचान है। इस अनुशासन से ही हमें निर्णय लेने की शक्ति मिलती है। जीवन में अनुशासन की वजह से ही हम हंसी खुशी भरा और खुशहाल जीवन जी पाते हैं।

अनुशासन को महत्व देता देश

ऐसा भी देखने में आता है जिन देशों ने अनुशासन को बहुत महत्व दिया वह देश अपनी मिसाल देते हैं। दुबई जैसे छोटे से देश में अनुशासन के महत्व की वजह से सारे विश्व की यात्रा का स्थल बन गया सारे विश्व से यहां घूमने आते हैं। इसी तरह अमेरिका समृद्धशाली देश जिसने समय को अनुशासन से पालन करने की वजह से आज विश्व की सबसे बड़ी आर्थिक स्थिति के रूप में उभर कर खड़ा है।

अनुशासन से मिलती है खुशियाँ ही खुशियाँ

Be happy

कुल मिलाकर यह सारी प्रकृति और पृथ्वी के सारे नियम के पालन की वजह से ही यह सृष्टि चलती है,उसी तरह जब तक हम अपने जीवन में अनुशासन और उनके नियमों का पालन करते हैं,तब तक ही हमें जीवन में परिवार का प्यार,धन की उपलब्धि, सुख, समृद्धि, सफलता ,और खुशियां ही खुशियां जीवन में मिल पाती है।

जय श्री कृष्ण।

Thank you,

Nirmal Tantia
Nirmal Tantia
मैं निर्मल टांटिया जन्म से ही मुझे कुछ न कुछ सीखते रहने का शौक रहा। रोज ही मुझे कुछ नया सीखने का अवसर मिलता रहा। एक दिन मुझे ऐसा विचार आया क्यों ना मैं इस ज्ञान को लोगों को बताऊं ,तब मैंने निश्चय किया इंटरनेट के जरिए, ब्लॉग के माध्यम से मैं लोगों को बताऊं किस तरह वे आधुनिक जीवन शैली में भी जीवन में खुश रह सकते हैं

0 thoughts on “अनुशासन का महत्व | Importance of Discipline in Life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Get rich and be happy success it is necessary to be ready to listen Happiness as a goal 10 rules 9 Daily Habits to build up your stamina after 40 year Health Happiness and wellbeing for teenagers What is prayer? Don’t worry be happy? Every child is special Happy marriage anniversary The biggest issue queer teens are facing in India How to stop Overthinking and be happy Which is the powerful prayer time, for Happiness in life What is Good Money quotes, to attract more money 12 top idea how to set your financial Money and others goal for future 8 Diffination and Meaning of rich/and wealthy What are the 10 effective way to communicate? How to Get Rich and Stay Rich and Happy Always 7 simple ways to be happy How to Enjoy Summer Vacation Student